Posted On: Wednesday, November 18, 2020

Shashwita Sharma: Crime Patrol Actors and Actresses

Shashwita sharma is a Professional Actor in Theatre, Films & Television. Born into a rich tradition of music, she is trained in Hindustani Classical Music (vocal) and got trained under her Mother/Guru Dr Neelima Sharma.

It was Kathak Meastro Pt. Birju Maharaj who gave her Kathak training while she was graduating from Delhi University and now she is learning & performing Banaras gharana style from Guru Vaibhav Joshi ji.

Her film and television career includes few films like Hate Story 2,  Sanam Re, Nirdosh,  Shamitabh,  & a documentary for NACO (National AIDS Control Organisation). Her major breakthrough role was in the television daily soap Maryada - Lekin Kab Tak (Star Plus), for which she was nominated in Star Parivar Awards. She was acclaimed for portraying the negative lead Gaganpreet in Bani-Ishq Da Kalma on Colors Channel. Her stint as a dark skinned-complexioned woman, who talks about racial discrimination on Zee Tv’s show Doli armano Ki gathered immense response globally. Last year, she made an appearance on  Courtroom - Sachchai Hazir Ho, a TV series on Colors channel in the role of a Cyber Crime Expert.


Read More

Posted On: Sunday, November 1, 2020

Last Autograph: Jiah Khan Suicide Case (Crime Patrol Dial 100 - Ep 718 21st February, 2018)


लास्ट ऑटोग्राफ़
Last Autograph

(The Burning Cases, Ep. 718)
जिया खान (असली नाम नफ़ीसा अली खान) का जन्म 20 फ़रवरी 1988 को हुआ था. मूल रूप से जिया एक ब्रिटिश-अमेरिकन मूल से थी और इनका 2007 में बॉलीवुड में निशब्द फ़िल्म से अमिताभ बच्चन के साथ डेब्यू किया था जो की उस समय की एक विवादित फ़िल्म रही थी. अपनी पहली ही फ़िल्म में जिया ने बहुत बोल्ड अभिनय किया था. इससे पहले 18 साल की जिया को महेश भट्ट की फ़िल्म तुमसा नहीं देखा के लिए चुना गया था मगर बाद में जिया को दिया मिर्ज़ा के साथ विस्थापित कर दिया गया और इसकी वजह बताई गई थी की रोल को देखते हुए जिया की उम्र काफ़ी कम थी.
इसके बाद इनको आमिर खान की गजनी में एक कॉलेज इंटर्न के रूप में देखा गया था. इन फ़िल्मों के अलावा जिया ने हाउसफुल सिरीज़ की पहली फ़िल्म में काम किया था.

जिया का पंखे से लटकता शव 3 जून 2013 को जुहू स्थित उसके फ़्लैट में पाया गया था और उस समय उसके घर में उसके अलावा कोई नहीं था. 3 जून को हुए इस हादसे के बाद 7 जून को जिया द्वारा लिखा गया एक 7 पेज का पत्र उसकी बहन को मिला था जिसमें उसने अपने डिप्रेशन के पीछे अभिनेता सूरज पंचोली का हाथ बताया था.

लेटर मिलने के बाद 10 जून को अभिनेता आदित्य पंचोली के बेटे सूरज पंचोली को गिरफ़्तार कर लिया गया था और फिर सूरज पंचोली को 2 जुलाई को बेल मिल पाई थी. इसके एक साल बाद 3 जुलाई 2014 को बोम्बे हाई कोर्ट ने जिया खान आत्महत्या केस CBI को दे दिया था.

Read More