Posted On: Sunday, May 10, 2015

Sone ki zameen: Murder of senior advocate Suraj Shukla (Episode 505, 506 on 9th, 10th May 2015)

Golden Land
सोने की ज़मीन

Advocate Suraj Shukla is a lawyer by profession and is in his 50s. His uncle is also a lawyer by profession and due to his age, he does not want to continue as advocate and hands over one of his cases to Suraj.

Suraj Shukla leaves for court as usual and does not return till night. Family members are nervous because it has never happened before. They also tries Suraj's phone but it is switched off. When a police report is lodged, the police get to know about two people who were seen with Suraj Shukla for the last few days.

Sooraj was last seen in the court and the CC TV camera mounted on the same side gives the police a photo of the two people. The police is taking action only when the news of the body of a middle-aged man from another police station comes. When the police arrive to investigate, after identification, it is known that the he is Suraj.
Sone ki zameen: Murder of senior advocate Suraj Shukla (Episode 505, 506 on 9th, 10th May 2015)

एडवोकेट ​सूरज शुक्ला पेशे से एक वकील है और उसकी उम्र 50 के आसपास है। उसके चाचा जी भी पेशे से वकील हैं और काफी उम्र होने के कारण वकालत चालू नहीं रखना चाहते हैं और अपने एक केस को सूरज को सौंप देते हैं। सूरज शुक्ला रोज की तरह कोर्ट के लिए निकलता है और रात तक वापस नहीं आता है। घरवालों में घबराहट है क्यों की पहले कभी ऐसा नहीं हुआ। वो सूरज का फ़ोन भी मिलाते हैं मगर वो लगातार बंद है। पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराइ जाती है तो पुलिस को दो लोगों के बारे में पता चलता है जो की पिछले कुछ दिन से सूरज शुक्ला के साथ देखे जाते थे।

सूरज को आखिरी बार कोर्ट में देखा गया था और वहीँ पर लगे सीसी टीवी कैमरा से पुलिस को उन्दोनो लोगों की फोटो भी मिलती है। पुलिस कारवाही कर ही रही है की तभी किसी दुसरे पुलिस स्टेशन से एक अधेड़ उम्र के पुरुष की लाश मिलने की खबर आती है। पुलिस जब छानबीन करने पहुचती है तो शिनाख्त के बाद पता चलता है की ये लाश सूरज की ही है।

YouTube:

Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2015/05/crime-patrol-missing-advocate-from.html

No comments:

Post a Comment