INSIDESTORIES.CO.IN BANNER

ads header

Case 68/2017*: Fake incometax raids Batuk Parmar's home (Ep 864, 865 on 21, 22 Oct, 2017 Crime Patrol Satark Season 1)


2017 का अढ़सठवाँ केस
Case 68/2017

(Corruption Kills, Ep. 864 & 865)
बटुक परमार एक साधारण का कर्मचारी है जो कि एक साड़ी की दुकान पर काम करता है. उसके घर में उसके अलावा उसकी पत्नी अल्पा, माँ कोकिल, कोकिला, बेटी पारुल और बेटा दीपेश परमार रहते हैं. साधारण से दिखने वाले इस परिवार पे एक सुबह 7:30 पे इंकमटैक्स डिपार्टमेंट की रेड पड़ती है जिसमें 1 महिला और 4 पुरुष हैं. इनके अलावा एक हवलदार भी है जो कि घर के बाहर खड़ा रहता है.

पूरे घर की तलाशी ली जाती है और फिर एक अल्मारी मिलती है जिसकी चाबी बटुक के पास नहीं है. वो कहता है की ये अल्मारी उसके पिछले मालिक अरविंद सेठ की है और चाबी भी उनके ही पास है. इंकमटैक्स वाले अलमारी को तोड़ने का निर्णय लेते हैं और ताला तोड़ने पर भौचक्के रह जाते हैं. अल्मारी पूरी तरह से रुपयों से भारी पड़ी है जो कि साठ लाख के आसपास हैं.
इसके बाद वो लोग ये सारे रुपए एक बैग में भर कर बटुक को अपने साथ ले जाते हैं और फिर रास्ते में उसको अपना कार्ड थमा कर उससे बोलते हैं की जाकर अपने मालिक को बोले की इस फ़ोन पर कांटैक्ट करे. बटुक भागा-भागा घर पहुँचता है. घर के सारे फ़ोन पहले से ही ज़ब्त किए जा चुके हैं सो वो एक टेलीफ़ोन बूथ से मालिक अरविंद को फ़ोन करके सारी बात बताता है. जब अरविंद सेठ बटुक द्वारा दिए गए कार्ड में वर्णित नम्बर पे कॉल लगाता है तो पाता है की वो नम्बर ग़लत है.

दोनो लोग पुलिस के पास जाते हैं और आगे पता लगाने पर पता चलता है कि ये छापा नक़ली था.
Batuk Parmar is an ordinary employee who works in a saree shop. Apart from him, his wife Alpa, mother Kokil, Kokila, daughter Parul and son Dipesh Parmar live in his house. This simple-looking family gets raided by the Income Tax department at 7:30 in the morning, in which there are 1 female and 4 male and apart from these, there is also a constable who stands outside the house.

The entire house is searched and then a cupboard is found, the key of which is not with Batuk. He says that this cupboard belongs to his previous owner Arvind Seth and the key is also with him. The Incomtax men decide to break the cupboard and are stunned after breaking the lock. The cupboard is filled with rupees which are around Six Million. The team fill all these money in a bag and take Batuk along with them and then on the way they give a visiting card to Batuk and ask him to go and tell his owner to contact on this phone.

Batuk runs back towards home. All the phones in the house have already been confiscated, so he calls the owner Arvind from a telephone booth and tells everything. When Arvind calls on the number mentioned in the card given by Batuk, he finds that the number is wrong. Both the people go to the police and on further investigation it is found that this raid was fake.
Online Episode on SonyLiv:
Part 1: www.sonyliv.com...21-Oct-2017
Part 2: www.sonyliv.com...22-Oct-2017

Online Episode on YouTube:
Part 1: www.youtube.com/watch?v=j28Dgk-qYrw
Part 2: www.youtube.com/watch?v=vKKlSMuyGoY

Post a Comment

0 Comments